मेरी और मेघा की लव स्टोरी | Love Story in Hindi Romantic 2

मेरी और मेघा की लव स्टोरी | Love Story in Hindi Romantic – दोस्तों आज आज मैं एक बार फिर से लेकर आया हूं एक ऐसी लव स्टोरी है जो आपकी मोहब्बत की यादों को ताजा कर देगी। अगर आपको सच में यह लव स्टोरी (Love Story in Hindi Romantic) अच्छी लगे तो कमेंट करके जरूर बताना। आपके एक कमेंट से मुझे काफी मोटिवेशन मिलेगा। तो चलिए इस लव स्टोरी (Love Story in Hindi Romantic) को पढ़ना शुरू करते हैं।

मेरी और मेघा की लव स्टोरी | Love Story in Hindi Romantic –

मैं और पवन बहुत अच्छे दोस्त थे क्योंकि बचपन से ही हम दोनों एक साथ रहे हैं। बात उस समय की है जब हम दोनों का स्कूल का पहला दिन था मैं और पवन एक साथ बैठे हुए थे। उस समय हमारे स्कूल में एक लड़की जिसका नाम साक्षी था। वह दिखने में बहुत खूबसूरत थी। स्कूल का हर कोई लड़का उससे प्यार करना चाहता था लेकिन वह हर लड़के को नजरअंदाज करती थी।

हमारे लड़कों का ग्रुप हमेशा उस लड़की के ही बारे में बातचीत करता रहता था। उस लड़के के प्यार करने को लेकर हमारे बीच काफी बातचीत होती रहती थी। आज भी मुझे सब कुछ अच्छी तरह से याद है। लंच का समय था हमारे लड़कों का ग्रुप एक साथ बैठकर खाना खा रहा था, तभी साक्षी हमारे पास से होकर गुजरती है। उस समय ही हमारे बीच शर्त लगी कि जो लड़का साक्षी को अपने प्यार में गिराएगा उसे हम सब लोग पार्टी देंगे। Love Story in Hindi Romantic

मैंने अपने दोस्तों की बातों को मजाक में ले लिया और कहा वह ऐसी लड़की नहीं है। पूरे स्कूल में साक्षी किसी की भी गर्लफ्रेंड नहीं बनेगी। उसे पढ़ाई के अलावा कोई भी चीज पसंद नहीं है। लेकिन मेरे दोस्तों ने इस बात को बहुत सीरियस ले लिया था और उन्होंने साक्षी को पटाने की ठान ली। साक्षी को पटाने की दौड़ में पवन भी शामिल था।

धीरे-धीरे कई दिन बीत गए लेकिन कोई भी कामयाब नहीं हो पाया। एक दिन साक्षी स्कूल के गार्डन में अकेले ही बैठी हुई थी। तभी मेरे एक दोस्त ने कहा – तुम सभी लोग चुप कर देखना क्योंकि तुम्हारे सामने ही मैं साक्षी को प्रपोज करने जा रहा हूं। परंतु उसे इस बात का पता नहीं था कि आज साक्षी का मूड पूरी तरह से खराब है। थोड़ी देर बाद मेरा दोस्त वहां पहुंच जाता है और उससे बातें करने लगता है। Love Story in Hindi Romantic

हम छुपकर उसे देख रहे थे लेकिन उनके बीच जो बातचीत हो रही थी, उसका अंदाजा ही लगा रहे थे। हम सभी देख रहे थे कि साक्षी ने खड़ी होकर उसके गाल पर एक तमाचा जड़ दिया। तब हम समझ चुके थे कि यह साक्षी को पटाने वाली रेस से बाहर हो चुका है। थोड़ी देर बाद मेरा दोस्त उदास चेहरा लेकर हमारे पास आ जाता है और कहता है – यार! बहुत टेढ़ी लड़की है किसी से भी नहीं पटेगी।

एक दिन मैं और पवन घर से ही साथ स्कूल जा रहे थे। तभी पवन ने मुझसे कहा – अगर मैंने उस लड़की को अपने गले लगा लिया तो क्या दोगे? Love Story in Hindi Romantic

मैंने कहा – पागल हो क्या? उस दिन का पता नहीं है। मुझे लगता है शायद तुम्हारा गाल भी थप्पड़ खाने के लिए बहुत जल्दी में है। मेरी बात को सुनकर पवन ने जवाब दिया – सच बताना यार! अगर मैंने उसे गले लगा लिया तो क्या दोगे?

मैंने कहा – मैं तुझे ₹5000 दूंगा। लेकिन तू साक्षी को हम सबके सामने गले लगाएगा।

हम दोनों के बीच शर्त लग चुकी थी। थोड़ी ही देर में हमें स्कूल पहुंच जाते हैं। अब मुझे लंच होने का इंतजार था क्योंकि लंच के समय ही पवन साक्षी को गले लगाने वाला था। आज मेरा पढ़ाई में बिल्कुल भी मन नहीं लग रहा था क्योंकि मैं उस पल का इंतजार कर रहा था कि कब पवन के गाल पर एक जोरदार थप्पड़ पड़े। लगभग 1:00 बजे हमारा लंच हो गया था। हमारा लड़कों का ग्रुप एक साथ बैठा हुआ था तभी मैंने सारी बातें अपने दोस्तों को बता दी। Most Romantic Love Story In Hindi

कुछ दोस्तों ने गले लगाने की बात को सुनकर पवन को इनाम देने की बात कही। हम सभी देख रहे थे कि साक्षी सामने एक टेबल पर बैठी हुई थी। कुछ ही देर में पवन हमारे पास से खड़ा होकर साक्षी के पास चला जाता है। और उससे बातें करने लगता है लेकिन दूर होने की वजह से आज भी वही हाल था। लगभग 20 मिनट तक बातचीत करने के बाद साक्षी ने पवन को गले से लगा लिया। मैं सब कुछ देखता ही रह गया। मुझे ऐसा महसूस हुआ मानो किसी ने मुझे बिजली का करंट लगा दिया हो।

पवन गले लगा कर हमारी ओर गुड लक का इशारा कर रहा था। मैं सोच रहा था कि शायद यह लड़की भी इससे प्यार करती है। थोड़ी देर बाद पवन मुस्कुराता हुआ हमारी ओर आ गया। हम सभी दोस्त एक दूसरे के मुंह की ओर देख रहे थे। तभी पवन हमसे अपने इनाम के पैसे मांगने लगा। हम सब ने वादे के मुताबिक पवन को इनाम के पैसे दिए। धीरे-धीरे कई दिन गुजर गए लेकिन उस दिन के बाद भवन में साक्षी की ओर मुड़ कर नहीं देखा। Most Romantic Love Story In Hindi

पवन और साक्षी के नहीं मिलने के कारण मुझे शक हो गया कि इन दोनों के बीच प्यार का कोई भी चक्कर नहीं है। फिर भी मुझे एक ही प्रॉब्लम सता रही थी कि उस दिन आखिरकार साक्षी ने इसे गले क्यों लगाया था? मैंने उस बात की खोज करना शुरू कर दिया। मैंने बिना अपने दोस्तों को बताएं पता लगाना शुरू किया। साक्षी की एक दोस्त मेरी बहुत अच्छी दोस्त थी जिसका नाम नंदिनी था। मैं सीधा नंदिनी के पास गया और उस दिन के बारे में पूछताछ करने लगा। लेकिन नंदिनी को कुछ भी पता नहीं था।

मैंने नंदिनी से कहा – तुम उसके बारे में पता करना कि आखिर उस दिन साक्षी ने पवन को गले क्यों लगाया था? नंदिनी ने कहा – दोस्त समझकर लगा लिया होगा लेकिन तुम इतने क्यों परेशान हो रहे हो। Love Story in Hindi Romantic

मैं – उस दिन नंदिनी को गले लगाने की शर्त लगी थी जो मैं हार गया था।

नंदिनी – कोई बात नहीं, साक्षी से मिलने के बाद पूछताछ करूंगी और तुम्हें बता दूंगी।

मैंने नंदिनी को धन्यवाद दिया और वहां से चला आया।

लगभग दो दिन गुजर चुके थे लेकिन नंदिनी ने कोई जवाब नहीं दिया था। मैं सीधा नंदिनी के पास गया और बोला तुमने अभी तक कोई जवाब नहीं दिया है। तभी नंदिनी ने कहा – माफ करना। मैंने स्कूल आते समय आज ही साक्षी से पूछा है। तभी मैंने कहा – तब साक्षी ने क्या कहा था?

नंदिनी – पवन उसे अपनी बहन मानता है इसलिए ही साक्षी ने उसे गले लगाया था। Love Story in Hindi Romantic

नंदिनी की बात सुनते ही मुझे पवन पर काफी गुस्सा आया लेकिन मैं भी कम नहीं था। उसी दिन मैंने ठान लिया था की पवन से उस बात का बदला जरूर लूंगा।

यह भी पढ़ें – Romantic Love Story in Hindi – विवेक और मीनाक्षी की प्रेम कहानी

लंच के समय सीधा साक्षी के पास गया और बोला – आप पवन से प्यार करती हो?

साक्षी – तुमसे किसने कहा?

मैं – मुझे क्या! मेरे सभी दोस्तों को पता है की तुम और पवन एक दूसरे से प्यार करते हैं। इस बात को हम सब से पवन नहीं कहा था और आपको याद है उस दिन आपने पवन को गले लगाया था।

साक्षी – उस दिन मुझे अपनी बहन बोल रहा था इसलिए मैंने उसे गले लगाया था।

मेरी और मेघा की लव स्टोरी | Love Story in Hindi Romantic
मेरी और मेघा की लव स्टोरी (Love Story in Hindi Romantic)

मेरी बात को सुनकर साक्षी बहुत नाराज हो गई और पवन को ढूंढने लगी। मैंने साक्षी को पवन का पता बताया और उसके पीछे-पीछे चल दिया। मैंने अपने दोस्तों को भी इशारों में ही बता दिया कि आज साक्षी के हाथों पवन पीटने वाला है। मैंने साक्षी को रोक कर कहा – पवन को मेरे बारे में पता नहीं चलना चाहिए। वह मेरा सबसे अच्छा दोस्त है। Love Story in Hindi Romantic

साक्षी – ठीक। मैं नहीं बताऊंगी।

थोड़ी ही देर में साक्षी पवन के पास पहुंच जाती है और हम सब खड़े होकर देख रहे थे। कुछ देर तक साक्षी ने पवन से बातें की और फिर उसके गाल पर एक चांटा जड़ दिया। अब मुझे काफी सुकून मिला था। साक्षी गुस्से में वहां से चली गई। थोड़ी देर बाद मैं अनजान की तरह वहां पहुंच जाता हूं और पवन से पूछा – क्या हुआ है? साक्षी यहां से इतना गुस्सा होकर क्यों गई है। पवन ने कोई भी जवाब नहीं दिया और मुझसे कहने लगा – सब कुछ तुमने किया है।

घर जाते समय मैंने पवन को किसी भी तरह से समझाया और कहा – तू मेरा सबसे अच्छा दोस्त है। उस लड़की से तेरा बदला मैं लूंगा। Love Story in Hindi Romantic

पवन – मुझे गुस्सा मत दिला! मैं अच्छी तरह से जानता हूं सब कुछ तू ने ही किया था और अब मेरे सामने अनजान होने का नाटक कर रहा है।

मैं – तूने मुझसे झूठ क्यों बोला था कि वह लड़की मुझसे प्यार करती है। एक शर्त जीतने के लिए तुमने मुझसे इतना बड़ा झूठ बोला था। कोई बात नहीं यार माफ कर देना। बातचीत करते हुए हम दोनों घर पहुंच जाते हैं। हमारे बीच सिर्फ एक ही खासियत थी कि हम दोनों स्कूल में बिना बोले रह सकते हैं लेकिन घर पहुंचने से पहले फिर से अच्छे दोस्त बन जाते थे। Love Story in Hindi Romantic

कुछ दिनों बाद हमारी परीक्षाएं नजदीक आ जाती है और हम परीक्षाओं की तैयारी में जुट जाते हैं। मैं शुरू से ही पढ़ाई में काफी होशियार था इसलिए मेरा क्लास के अंदर पहला स्थान आया था। गर्मियों की छुट्टी खत्म हो जाने के बाद हमारे स्कूल फिर से शुरू हो गया। फिर से वहीं लड़कों का ग्रुप तैयार हो गया। एक दिन मैंने क्लास के अंदर जैसे ही प्रवेश किया तो देखा कि सामने एक खूबसूरत लड़की खड़ी हुई थी। मुझे पहली नजर में ही उस लड़की से प्यार हो गया था लेकिन कुछ भी कह नहीं पाया।

वह लड़की मेरी ही क्लास में पढ़ाई करती थी और उसका नाम मेघा था। नया एडमिशन होने की वजह से मैं बहुत कम बातचीत करती थी। मैंने उसी दिन से सोच लिया था कि मेघा को प्रपोज कर के ही रहूंगा। लगभग एक माह बीत चुका था। क्लास के सारे छात्र एक दूसरे से अच्छी तरह से घुल मिल चुके थे। मेघा भी मेरे बारे में अच्छी तरह से जान चुकी थी। मैंने मेघा को प्यार करने की बात अपने दोस्तों को बताने की सोची लेकिन पिछले वर्ष को याद करके रुक गया।

मैंने फैसला लिया कि मेघा के प्यार करने के बाद ही अपने दोस्तों को इसकी जानकारी दूंगा। क्लास के अंदर होशियार होने की वजह से मुझे ही क्लास का मॉनिटर बनाया गया था। जब भी क्लास के अंदर टीचर देरी से आता तो, मैं ही पढ़ाना शुरू कर देता था। एक दिन मैंने मौका देख कर मेघा को प्रपोज कर दिया लेकिन उसने कोई जवाब ही नहीं दिया था। मैं जब भी मेघा से प्यार के बारे में बातचीत करता तो वह मुस्कुरा कर चली जाती थी। Love Story in Hindi Romantic

मेघा के मुस्कुराने की वजह से मैं समझ चुका था कि वह भी मुझसे प्यार करती है लेकिन इजहार करने से डर रही है। क्लास के अंदर ही मैं, मेघा को इशारों से ही प्यार करने के बारे में समझा था लेकिन वह कोई भी जवाब नहीं देती थी। इशारों में बातचीत करते हुए कई दिन गुजर गए। लंच का समय चल रहा था मैंने देखा कि मेघा पानी की टंकी के पास पेड़ की छाया में बैठी हुई है।

मैं पानी पीने के बहाने वह आ गया और मेघा को सुना कर कहने लगा – अगर आज आपने जवाब नहीं दिया तो मैं स्कूल आना बंद कर दूंगा। यहां से जाने के बाद मैं क्लास के अंदर में तुम्हारे आने का इंतजार करूंगा। इतना कहने के बाद मैं सीधा अपने क्लास के अंदर चला गया। जैसे ही मैंने क्लास के अंदर जाकर पीछे मुड़ कर देखा कि मेघा भी आ रही है। थोड़ी देर बाद मेघा भी क्लास के अंदर आ जाती है और कहती है – क्या है, क्यों बुलाया है मुझे यहां पर।

मैं – आखिरकार! तुम कितने दिनों तक मुझसे इंतजार करवाओगी। यार तुम समझ नहीं पा रही हो कि मैं तुमसे कितना प्यार करता हूं।

मेघा – अब समझा दो क्लास के अंदर भी कोई भी नहीं है।

मेघा के इस बात को सुनकर मैं समझ चुका था कि वह भी मुझसे प्यार करती हैं। मैंने चारों तरफ देखा और मेघा को हाथ पकड़ कर अपनी टेबल के पास बैठा लिया। मेघा मेरी ओर देख रही थी। मुझसे रहा नहीं गया और मैंने गाल पर दाग बताते हुए एक किस कर लिया। मेरे किस करने के बाद मेघा काफी शर्म आ गई थी। Love Story in Hindi Romantic

हम दोनों हमारे प्यार को किसी को भी बताना नहीं चाहते थे लेकिन धीरे-धीरे पूरे स्कूल को पता चल गया था। हम दोनों लगभग दो साल तक लगातार एक साथ पढ़े थे। इन दो सालों में मैंने और मेघा ने खूब रोमांस किया था। मेघा ने जिस चीज की भी मुझसे चाहत रखी थी, मैंने उसको दिया था। आज भी मैं मेघा से बहुत प्यार करता हूं लेकिन उससे मिले हुए मुझे काफी दिन हो चुके हैं। जब भी मुझे हमारा प्यार याद आता है, तो हम दोनों की साथ वाली फोटो निकाल कर देख लेता हूं। 

ये भी पढ़े – सच्चे प्यार का पछतावा – Love Story Heart Touching in Hindi

Pubg Wali Girlfriend – 1 | Real Life Love Stories in Hindi | लव स्टोरी इन हिंदी

Pubg Wali Girlfriends – 2 | Real Life Love Story in Hindi | स्टोरी इन हिंदी

Sad love story in hindi | मेरी अधूरी कहानी | pyar ki kahani

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button